क्या आप जाणते हे कुछ ऐसी भी मछलीया हे जो रेगिस्तान में भी जिंदा रेह सक्ती हे ।। पुरा पढणे के लिये क्लिक करे !!

हम सब ने अपनी जिंदगी में मछलियों के बारे में बहुत सुना होग कि वह पानी में रहती हैं। पानी में ही सांस लेती हैं पानी में ही खाना खाती हैं। और पानी में ही अपनी पूरी जिंदगी जी के मर जाती हैं। लेकिन क्या कभी आपने ऐसा सुना है या देखा है कि एक ऐसे प्रकार की मछली भी होती हैं जो रेगिस्तान में भी जिंदा रह सकती हैं। जी हां आपको अनोखे और अविश्वसनीय फॅक्ट को जानकर इस पर विश्वास करने में बहुत मुश्किल होगी लेकिन यह फॅक्ट बिल्कुल सही है। वैसे, लंगफिश नामक एक किस्म की मछली है, जो अफ्रीका में पाई जाती है। जब नदियां ओवरफ्लो होती हैं, तो उनका पानी आसपास के शुष्क क्षेत्रों में फैल जाता है।

यह छोटी झीलें या तालाब बनाती हैं। इन तालाबों में मछलियाँ रहती हैं। और, जब झीलें सूख जाती हैं, तो फेफड़े की मछली मर नहीं जाती है। वे खुद को गीली मिट्टी में दफनाते हैं जहां वे महीनों तक रह सकते हैं। विशेष रूप से, अगर वे गहरे भूमिगत जाते हैं। कभी-कभी, इन मछलियों को मिट्टी से कई मीटर नीचे पाया गया है। लंगफिश आज पृथ्वी पर पाए जाने वाले सबसे प्राचीन बोनी मछलियों में से एक हैं। वे मछली की तरह हैं जो मेसोजोइक युग की शुरुआत में 200 मिलियन साल पहले रहते थे। यह एक ऐसा समय था जब पृथ्वी पर डायनासोर, मछली, उड़ने वाले सरीसृप और सदाबहार पेड़ पाए गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *