बॉलीवुड में अब तक किसे मिला है OSCAR:

 

सिनेमा जगत के दुनिया के सबसे बड़े पुरस्कार जिसे ऑस्कर के नाम से भी जाना जाता है भारत का मिलन उससे 1957 में हुआ। जब महबूब खान की मशहूर फिल्म मदर इंडिया को फॉरेन लैंग्वेज की सर्वश्रेष्ठ फिल्म श्रेणी में नामांकित किया गया। हालांकि यह बड़ी अचंभित बात है कि आज तक किसी भारतीय ने ऑस्कर नहीं जीता लेकिन हमारे देश में कई ऐसे कलाकार हैं जो भारत को बुलंदियों तक पहुंचा चुके हैं।

भारत के मशहूर गायक ए आर रहमान से लेकर मशहूर कॉस्टयूम डिजाइनर भानु अथैया जैसे बहुत ही कम भारतीय हैं जो ऑस्कर घर ला सके हैं। चलिए अब जानते हैं भारत में किस-किस ने अब तक ऑस्कर जीता है और उसको अपने नाम करके देश का नाम रोशन किया है:

Best Costume Designer: Bhanu Athaya

भारत के काफी फेमस कॉस्टयूम डिजाइनर भानु अथय ने 1982 में ऐतिहासिक नाटक गांधी के लिए अपना और भारत का पहला ऑस्कर जीता था। 100 से अधिक फिल्मों में योगदान दे चुके भानु ने गुरुदत्त, यश चोपड़ा, राज कपूर, बी आर चोपड़ा, विजय आनंद, राज खोसला, आशुतोष गोवारीकर और कई अन्य कलाकारों के साथ काम किया है। उन्होंने हॉलीवुड के अभिनेता कोनार्ड रक्स और रिचर्ड अटेंब्रो के साथ भी काम किया है।

Honorary Award: Satyajit Ray

भारत के सबसे मशहूर फिल्म निर्माता सत्यजीत राय ने भारतीय सिनेमा को एक अलग ही पहचान दी है। उन्होंने अपने काम के रूप में बॉलीवुड को इतनी अच्छी-अच्छी फिल्में दी हैं कि आज भी उनकी बनाई गई फिल्में कहीं डायरेक्शन स्कूल्स में केस स्टडी के रूप में पढ़ी जाती है। उनकी फिल्म पाथेर पंचाली ने भारतीय सिनेमा में एक अलग ही नाम रोशन किया। और कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार जीते। फिर 1992 में, द अकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज ने सत्यजीत को लाइफ टाइम अचीवमेंट के लिए 1992 में हॉनरेरी ऑस्कर से सम्मानित किया। बदकिस्मती से बुरे स्वास्थ्य के चलते सत्यजीत उस समय अस्पताल में भर्ती थे। इसलिए भाई यह कार्यक्रम मैं शामिल ना हो पाए।

Best Sound Mixing: Resul Pookutty

जैसा कि हम सब जानते हैं भारतीय सिनेमा इतिहास की सबसे मशहूर फिल्मों में से एक स्लमडॉग मिलेनियर ने भारतीय सिनेमा को अलग ऊंचाइयां जिताई। एक तरफ फिल्म ने बहुत से अकादमी पुरस्कार जीते और दूसरी तरफ 81 वे सर्वश्रेष्ठ साउंड मिक्सिंग के लिए ऑस्कर जीतकर रसूल ने भारत का नाम रोशन किया। उन्होंने यह ऑस्कर इयान टप और रिचर्ड प्राइके साथ शेयर किया। ऑस्कर के लिए धन्यवाद बोलते हुए रसूल ने कहा “यह ऑस्कर मैं अपने देश के नाम समर्पित करता हूं यह मेरा नहीं मेरे देश का है मैं उस देश से आता हूं जिसने दुनिया को ओम दीया।”

A.R. Rahman

डैनी बॉयल की स्लमडॉग मिलेनियर ने 81 वे ऑस्कर समारोह में कहीं बढ़िया-बढ़िया पुरस्कार जीते। ए आर रहमान केवल एक ऐसे भारतीय हैं जो ब्रिटिश इंडियन फिल्म में अपने काम के लिए ऑस्कर में तीन अलग-अलग फील्ड में नोमिनेट हुए हैं। उस साल ए आर रहमान ने दो ऑस्कर जीतकर इंडियन हिस्ट्री में अपना नाम सुनहरे अक्षरों में जड़ दिया। एक ओरिजिनल स्कोर के लिए और दूसरा जय हो गाने के लिए।

Best Original Song: Gulzar

गुलजार साहब इनको कौन नहीं जानता भारत के मशहूर लेखक और कभी दुनिया में अपना बोलबाला रखते हैं। जय हो गाना जिसके लिए ए आर रहमान को ऑस्कर मिला था वह गाना किसी और ने नहीं बल्कि हमारे गुलजार साहब ने लिखा था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *