अगर चीन और अमेरिका आमने सामने अगाये तो क्या होगा? क्या समाप्त होजाएगी दुनिया:

कोलदोस्तो इस वक्त 2021 में अमेरिका दुनिया का नंबर देश है। पर चीन भी कुछ पीछे नहीं है। दोनो ही देश दुनिया की सबसे बड़ी इकोनॉमी है। ये दोनो देश मिलकर अकेले ही पूरी दुनिया की 40% इकोनॉमी रखते है। इससे आप अंदाजा लगा सकते हो ये दोनो देश कितनी ताकत रखते है। ये दोनो देश दुनिया की मार्केट में एक दूसरे के बहुत बड़े कंपीटीटर है।

सोचिए अगर चीन और अमेरिका का यु;द्ध छिड़ जाए तो क्या होगा? कोन जीतेगा? आज हम आपको यही बताने जा रहे है। हम चीन और अमेरिका दोनो की तीनों से;ना की ताकत को आमने सामने रखेंगे, किसकी से;ना के पास कितने हथि;यार है और किसके सैनि;क ज्यादा शक्ति शाली है और फिर देखेगे की कोन किस्से भरी पद सकता है।

दोस्तो आपमें से ज्यादातर लोगों को ये बात पता ही होगी की अमेरिका सबसे ज्यादा पैसा खर्च करता है। अमेरिका का इस साल का मि;लिट्री बजट 51लाख करोड़ रुपया है जो दुनिया के नहाने कितने ही छोटे छोटे देशों को खरीद ले। वही दूसरी ओर चीन का इस साल का बजट 15 लाख करोड़ रुपया है। जो दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मि;लिट्री पर खर्चे जाने वाला बजट है। तो बजट के मामले में तो अमेरिका चीन से आगे है।

पर इसका मतलब यह नहीं है की जो देश ज्यादा पैसा खर्चता है वो ज्यादा ताकतवर है। जहा एक तरफ अमेरिका मिलिट्री पर ज्यादा पैसा खर्चता है वही दूसरी तरफ चीन का सै;निक गिनती अमेरिका से बहुत बड़ा है। लगभग अमेरिका से दो गुनी आर्मी गिनती है चीन की। जैसा की दोनो देश बहुत दूर है तो जमीनी यु;द्ध होना तो लगभग नामुमकिन है।

तो अगर दोनो देशों की एयर फो र्स की बात की जाए तो अमेरिका के पास 5414 एयर क्रा फ्ट है वही दूसरी ओर चीन के पास 3370 एयर क्रा;फ्ट है। अगर अभी के वक्त में हम बात करे तो चाइनीज मि;लिट्री बहुत तेज़ी से एयर क्रा;फ्ट बना रही है और खरीद रही जो आने वाले समय में अमेरिका को ट;क्कर देगी। अमेरिका के पास F series हैं जो बहुत ही ताकतवर है।

अब अगर हम ने;वी की बात करे तो सबसे जरूरी होता है एयर क्रा;फ्ट कैरियर जो एक तरह से तैरता हुआ किला होता है। अमेरिका के पास 11 एयर क्रा;फ्ट कैरियर है वही चीन के पास मात्र 2 एयर क्रा;फ्ट कैरियर है। जिसमे की फिर से अमेरिका भरी पड़ता है। 

अगर सब;मरीन की बात करे तो चीन के पास 76 स;बमरीन है और अमेरिका के पास 66 सब;मरीन है। जिसमे की सिर्फ चीन आगे है बाकी चीज में काफी पीछे है।

यहां से ये तो साबित है की इस वक्त तो चीन अमेरिका से नहीं जीत सकता है। लेकिन अगर जमीनी यु;द्ध होता है तो चीन की से;ना अमरीका पर भरी पड़ सकती है। पर आज के जमाने में ऐसा यु;द्ध नहीं होगा। कुल मिलाकर अमेरिका ही आगे है।

लेकिन अब बात आती है की ये य;द्ध सच में होना चाहिए?तो हम सब ही चाहते है की ऐसा बिल्कुल ना हो। क्युकी अगर न चाहते हुए भी ऐसा होता है तो पूरी दुनिया में हाहा; कार मच जाएगी। विश्व यु;द्ध 3 छिड़ जाएगा और दुनिया के सभी देश बहुत बुरी स्तिथि में आजाएगे। जहा देखेगे वही हाहा कार होगा। तो दुनिया के भले के लिए अच्छा तो यही है की ऐसा कभी न हो और दुनिया में शांति बनी रहे।