थाइरोइड , उसके लक्षण और कारण

thyroid symptoms and causes

आज के समय में जो बहुत ही आम समस्या है तज्ञरोइड कि बीमारी जो आजकल बहुत से लोगो में देखने को मिल रहा है। बहुत सारे लोग इस बीमारी से पीड़ित है और सबसे ज्यादा हाइपोथायरायडिज्म से आज कल 10 में से 1 व्यक्ति इस बीमारी से पीड़ित है। गले के सामने वाले हिस्से में थाइरोइड ग्रंथि बहुत ही छोटे आकर में होती है। यह खून में हार्मोन का निर्माण करती है , उसे स्टोर करती है और निकलती है ताकि या हार्मोन शरीर के कोशिकाओं तक पहुँच सके। लेकिन जब यह ग्रंथि इस काम को ठीक से नही कर पाती टैब इसे थाइरोइड की बीमारी कहते है। थाइरोइड क्या है : थाइरोइड का मतलब है एक ऐसी स्थिति जिसमे थाइरोइड ग्रंथि पर्याप्त मात्रा में हार्मोन्स नही बना सकती। इस कारण लोगो के शाररिक क्षमता कम हो जाती है और उन्हें और बाकी शारारिक परेशानी होती है।

थाइरोइड के प्रकार
थाइरोइड के 4 प्रकार होते है:-१. हाइपोथायरायडिज्म थाइरोइड- जब थाइरोइड ग्रंथि में थाइरोइड हार्मोन्स कमी होती है तब उसे हाइपोथायरायडिज्म थाइरोइड कहते हैं। २.हाइपरथाइरॉयडिज़्म थाइरोइड- जब थाइरोइड ग्रंथि में ज्यादा टिश्यू बनते है तो इसेहाइपरथाइरॉयडिज़्म थाइरोइड कहते है। इसमे हार्मोन्स ज्यादा हो जाता है। ३.गोइटर थाइरोइड- जब शरीर में आयोडीन की कमी होती है तब इसे गोइटर थाइरोइड कहते है।जब इंसान को गोइटर थाइरोइड होता है तब डॉक्टर मरीज़ को आयोडीन की दवाई देते है जिससे आयोडीन की मात्रा सामान्य हो जाती है।४. थाइरोइड कैंसर- जब थाइरोइड ग्रंथि में गाँठ बन जाती है तब थाइरोइड कैंसर होता है। यह थाइरोइड का अंतिम और गंभीर प्रकार है और इसका इलाज केवल सर्जरी से होता है।

थाइरोइड के सिम्पटम्स:
थाइरोइड के कुछ लक्षण है अगर किसी को थाइरोइड है तो उनमें यह लक्षण दिखाई देते है जो इस प्रकार है:-

  • गले में सूजन होना- थाइरोइड होने पर कुछ लोगो के गले में सूजन हो जाता है और यह गोइटर थाइरोइड के लक्षण है।
  • बालों का झड़ना- थाइरोइड होने पर महिलाओं के बाल तेजी से झड़ने लगते है, यह भी एक लक्षण है थाइरोइड की पेहचान करने का।
  • वजन का बढ़ना या घटना- जब किसी व्यक्ति को थाइरोइड होता है तो उसके वजन में बहुत बदलाव देखने को मिलता है। व्यक्ति का वजन तेजी से बढ़ने लगता है या तो घटने लगता है।
  • मूड स्विंग होना- थाइरोइड के बाकी लक्षणों में एक लक्षण मूड स्विंग भी ह इसमे इंसान कभी खुश होता है तीन कभी दुखी हो जाता है।
  • हृदय की गति में बदलाव होना- अगर किसी व्यक्ति के दिल की धड़कन तेज़ हो जाती है तो यह भी थाइरोइड के लक्षण हो सकते है और इसकी जांच समय पर होनी चाहिए।

थाइरोइड होने के कारण:
हमारी दिनचर्या में ऐसे बहुत से चीज़े होती है जिससे हमें थाइरोइड हो जाता है। इसके कुछ प्रकार है-:
●आयोडीन की कमी होना- थाइरोइड की मुख्य समस्या शरीर में आयोडीन की कमी के कारण होती है। इसलिए भोजन के समय ऐसे नामक का सेवन करना चाहिए जो इओडिन से भरपूर हो।
●बच्चे का जन्म होना- कई बार ऐसा देखा गया है कि थाइरोइड उन महिलाओ को हो जाता है जिन्होंने हाल ही में बच्चे को जन्म दिया हो।
●बहुत तनाव में होना- थाइरोइड उन लोगो को होने की संभावना ज्यादा रहती है जो बहुत तनाव में रहते है। इसलिए हर व्यक्ति को तनाव मुक्त जीवन जीना चाहिए जिसके लिए योग मेडिटेशन आवश्यक है।
●मधुमेह होना- कई बार ऐसा होता है कि थाइरोइड मधुमेह का कारण बन जाता है। इसलिए जो व्यक्ति थाइरोइड से पीड़ित है उसे मधुमेह नियंत्रित करने की कोशिश करनी चाहिए।